प्रधानमंत्री फसल बीमा के पांच साल पूरे, कृषि मंत्री बोले- आज हमारी चिंता उत्पादन की नहीं बल्कि सही प्रबंधन की है Featured

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि खाद्यान के अतिरिक्त दूध उत्पादन, मत्स्य पालन, बागवानी सभी क्षेत्रों में विश्व में तुलना करें तो हम नबंर-1 पर या फिर नंबर-2 पर होंगे।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के पांच साल पूरे होने पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सभी को बधाई दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश की आधी आबादी को कृषि ही रोजगार प्रदान करता है। उन्होंने आगे बताया कि कोविड के दौरान कृषि क्षेत्र ने अपनी प्रासंगिकता को सिद्ध किया। आज हमारी चिंता उत्पादन की नहीं है, लेकिन जितना उत्पादन हो रहा है उसका कैसे प्रबंधन करें यह चिंता का विषय है।  
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि खाद्यान के अतिरिक्त दूध उत्पादन, मत्स्य पालन, बागवानी सभी क्षेत्रों में विश्व में तुलना करें तो हम नबंर-1 पर या फिर नंबर-2 पर होंगे। वैश्विक मानकों के अनुसार हम उत्पादन कर सकें जिससे हमारे कृषि उत्पाद का निर्यात बढ़ सके और हमारे किसान को अच्छी कीमत मिल सके। इस दिशा में भारत सरकार राज्यों के साथ मिलकर सफलतापूर्वक काम कर रही है।

उन्होंने आगे बताया कि अभी तक इस योजना से 25 करोड़ से ज्यादा किसान जुड़ चुके हैं, 5 करोड़ नए किसान हर साल जुड़ रहे हैं। 2014-2019 के बीच 1,600 करोड़ रुपए किसानों के प्रीमियम के रूप में जमा हुआ और उनके नुकसान की भरपाई 86,000 करोड़ रुपए देकर की गई। उन्होंने कहा कि अभी तक अगर आप देखेंगे तो 90 हजार करोड़ रुपए किसानों को नुकसान की भरपाई के तौर पर दिए जा चुके हैं।
उन्होंने आगे कहा कि हम बीमा योजना को जितना उत्तम और सुविधाजनक बनाने की इच्छा रखते हैं यह तभी संभव हो पाएगा जब हमारी कोशिश हो कि देश का हर एक किसान इस बीमा के कवर में आ जाए। इस दौरान उन्होंने कंपनियों को जागरुकता अभियान चलाने की नसीहत दी ताकि दूर-दराज के किसान भी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ उठा सकें।

Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

फेसबुक