महाशिवरात्रि पर्व पर होने वाली व्यवस्थाएं समय-सीमा में पूर्ण करना सुनिश्चित करें Featured

उज्जैन । महाशिवरात्रि पर्व 21 फरवरी को मनाया जायेगा। पर्व पर जिला प्रशासन एवं मन्दिर प्रशासन तथा पुलिस प्रशासन के द्वारा व्यापक तैयारियां की जा रही हैं। व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में संभागायुक्त श्री अजीत कुमार एवं आईजी श्री राकेश गुप्ता ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ महाकाल प्रवचन हाल में बैठक लेकर ड्यूटी देने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को निर्देश दिये हैं कि जिन-जिन विभागों को व्यवस्थाएं सौंपी है, वे समय-सीमा में पूर्ण करना सुनिश्चित करें। संभागायुक्त श्री अजीत कुमार ने नगर निगम के अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि श्रद्धालुओं की बुनियादी सुविधाओं का विशेष ध्यान दिया जाये जैसे पेयजल, शौचालय आदि। इसी तरह स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि वे सौंपे गये निर्धारित स्थलों पर स्वास्थ्य सम्बन्धी चिकित्सकीय सुविधा मय एम्बुलेंस, दवाएं आदि की समुचित व्यवस्था की जाये।संभागायुक्त अजीत कुमार ने विद्युत विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि महाशिवरात्रि पर्व पर निर्बाध रूप से विद्युत सप्लाई की जाये। विद्युत बन्द होने के तुरन्त बाद वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित की जाये, ताकि विद्युत सप्लाई निरन्तर बनी रहे। लोक निर्माण विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि वे तय समय-सीमा में बेरिकेटिंग आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करें। खाद्य एवं औषधि विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि वे महाशिवरात्रि पर्व के समाप्ति अन्त तक महाकाल मन्दिर के आसपास लगी समस्त दुकानों पर विक्रय होने वाली खाद्य सामग्री आदि की समय-समय पर चैकिंग की जाये। इसके साथ ही महापर्व पर लगने वाले स्टालों पर फरियाली खिचड़ी आदि वितरण की भी चैकिंग की जाये। इस अवसर पर आईजी श्री राकेश गुप्ता ने भी अधिकारी-कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र ने सम्बन्धित विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों जिनकी ड्यूटी महाशिवरात्रि पर्व के दौरान लगाई है, वे अपने निर्धारित स्थल पर ड्यूटी दें और अपने निर्धारित स्थल पर से इधर-उधर न हों, इस बात का विशेष ध्यान दिया जाये। साथ ही अपने-अपने मोबाइल इस दौरान चालू रहें। निर्देशों का पालन नहीं करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।
    बैठक में अपर कलेक्टर एवं श्री महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति के प्रशासक श्री एसएस रावत ने विभिन्न विभागों को अलग-अलग सौंपी गई दर्शन व्यवस्था के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि दर्शनार्थियों एवं शीघ्र दर्शन, पासधारी, मीडिया, वीआईपी आदि की अलग-अलग प्रवेश की व्यवस्था रहेगी। जूता स्टेण्ड हरसिद्धि चौराहे पर काउंटर बनाये गये हैं। जूता-चप्पल दर्शनार्थी हरसिद्धि चौराहे काउंटर पर टोकन एवं काउंटर नम्बर प्राप्त कर उतारेंगे। यह व्यवस्था उज्जैन विकास प्राधिकरण के जिम्मे रहेगी। हरसिद्धि चौराहे से कपड़े के बैग में जूते-चप्पल रखकर ई-रिक्शा से निर्गम द्वार के समीप बनाये गये काउंटर पर टोकन एवं काउंटर नम्बर बताने पर जूते-चप्पल उपलब्ध कराये जायेंगे। मीडिया का प्रवेश बेगमबाग वाले रूट से माधव सेवा न्यास के पीछे बने पार्किंग पर अपने वाहन रखकर शंख चौराहा के पास निर्माल्य गेट फेसेलिटी सेन्टर के समीप बने गेट से प्रवेश कर बाल हनुमान मन्दिर के समीप से होते हुए रैम्प से होते हुए कंट्रोल रूम के समीप बनाये गये मीडिया सेन्टर पर पहुंचेंगे। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी डॉ.आरपी तिवारी, अपर कलेक्टर श्रीमती बिदिशा मुखर्जी, श्री जीएस डाबर, पुलिस प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, जिला प्रशासन के अधिकारी तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी आदि उपस्थित थे।

Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

फेसबुक