आपके मोबाइल से भी फैल सकता है कोविड-19, ऐसे रखें अपने फोन को कीटाणु रहित Featured

कोरोना वायरस के समय में सबसे अधिक ध्यान रखना आवश्यक है कि कहीं भी मोबाइल फोन निकाल कर बात करने से परहेज किया जाए। बहुत जरुरी हो तो ही पब्लिक प्लेसेज पर मोबाइल फोन से तभी बात करें, जब आपके हाथ में सैनिटाइजर हो और हाथ सैनिटाइज करने के बाद ही अपने मोबाइल फोन को टच करें।

यह कोई आज की ही बात नहीं है, बल्कि पहले से ही एक तथ्य रहा है कि मोबाइल फोन से कीटाणुओं के सर्वाधिक फैलने का खतरा मौजूद रहता है। ऐसे में बचाव के लिए सजगता बेहद जरूरी है।


सामान्य स्थितियों में अगर हम इसे अनदेखा भी कर देते हैं, तो कोविड-19 के दौर में हमें इन प्वाइंट्स पर बेहद सावधानी बरतने की जरूरत है और मोबाइल से वायरस के प्रसार के प्रति तो हमें और भी सजग हो जाना चाहिए।

 

क्या आप इस बात पर यकीन करेंगे कि आपका मोबाइल फोन आपकी टॉयलेट सीट से भी 10 गुना अधिक गंदा और कीटाणुओं से युक्त होता है।


जी हां! यह एक स्टडी पर आधारित है और इस बात में कोई संदेह करने की गुंजाइश नहीं है। विशेषज्ञों का कहना है कि हम कुछ भी छूते हैं और तुरंत उसके बाद हम अपने मोबाइल फोन को भी छूते हैं, गंदी से गंदी चीज छूने के बाद भी... चाहे वह दीवाल हो, कुर्सी हो, कंप्यूटर हो, कोई ग्रॉसरी का समान हो, सब्जी हो... या कुछ और हो।


अक्सर यह सारी चीजें छूने के बाद हम मोबाइल फोन भी उसी हाथ से छू लेते हैं।


हालाँकि, सैनिटाइजेशन के दौर में हम खुद को तो थोड़ा बहुत सैनिटाइज भी कर लेते हैं, किंतु मोबाइल को फिर भी सैनिटाइज करना हम भूल जाते हैं। ऐसे में वायरस फैलने का खतरा कहीं ज्यादा बढ़ जाता है।


इसके लिए हमें कुछ सावधानियों के बारे में ध्यान रखने की आवश्यकता है।


सार्वजानिक जगह पर फोन से बात करने में करें परहेज


कोरोना वायरस के समय में सबसे अधिक ध्यान रखना आवश्यक है कि कहीं भी मोबाइल फोन निकाल कर बात करने से परहेज किया जाए। बहुत जरुरी हो तो ही पब्लिक प्लेसेज पर मोबाइल फोन से तभी बात करें, जब आपके हाथ में सैनिटाइजर हो और हाथ सैनिटाइज करने के बाद ही अपने मोबाइल फोन को टच करें। इससे भी बेहतर हो अगर आप हैंड्स फ्री का इस्तेमाल करते हैं। क्योंकि मोबाइल को मुंह और नाक के पास लाना, वह भी सार्वजनिक स्थानों पर कहीं से भी समझदारी नहीं कहा जा सकता है ।

 

फोन को भी करें सैनिटाइज

जी हां! खासकर तब जब बाहर निकलने पर आपने मोबाइल का इस्तेमाल किया हो, घर में या ऑफिस में पहुंचते ही फोन को ठीक ढंग से सैनिटाइज करना चाहिए। इसके लिए किसी साफ सूती कपड़े को सैनिटाइजर में गीला करके फोन को साफ करें। हालांकि, इसमें सावधानी यह रखने की आवश्यकता है कि फोन के अंदर लिक्विड ना जाए, क्योंकि इससे आपके फोन की प्रोसेसिंग में दिक्कत आ सकती है।


किसी को भी अपना फोन टच न करने दें

हालांकि, लोग इस बारे में काफी जागरूक हो चुके हैं, फिर भी कई बार देखा गया है कि अगर आपके पास कॉल आती है, तो लोग अपना फोन बगल वाले को भी पकड़ा देते हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि फोन आपकी टेबल पर पड़ा है और रिंग बजने पर आपका कलिग उस फोन को रिसीव कर लेता है।  इस तरह की चीजों से वर्तमान में पूरी तरह बचा जाना चाहिए, क्योंकि कब कहां से कोई दुर्घटना आपके साथ हो जाए और आप हॉस्पिटल में नजर आयें, इसे लेकर निश्चिन्त नहीं होया जा सकता है! इसलिए अपने फोन को लेकर सजग रहें और सजगता ही वर्तमान में बचाव है।

 

फोन के कवर की सफाई

फोन की सुरक्षा के लिए अक्सर हम उसमे कवर चढ़ा देते हैं, और इसके बाद निश्चिंत हो जाते हैं। लेकिन हमें ऐसा करने से बचना चाहिए और समय समय पर फोन के कवर को धो कर या सेनेटाइज़ कर साफ कर लेना चाहिए।


अगर इन उपायों पर हम ध्यान देते हैं तो निःसंदेह ही अपने फोन को कीटाणुरहित रख पाने में सफल हो सकते हैं।


- मिथिलेश कुमार सिंह

Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

फेसबुक