अपनी नेता का महिमा मंडन करने में जुटी राज्य सरकार: शेखावत Featured

जोधपुर। केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राहुल गांधी के बाद कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा पर निशाना साधा है। उन्होंने आरोप लगाया कि स्वयं मजदूरों को लाने में विफल रही राजस्थान सरकार अब 500 बसें भेजने के नाम पर अपनी नेता का महिमामंडन करने में लगी है।

शेखावत ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की बड़ी नेता, जो उत्तर प्रदेश की प्रभारी हैं, राष्ट्रीय महासचिव हैं, उनके नाम पर कहा जा रहा है कि उन्होंने 500 बसें भेजी हैं। जो उत्तर प्रदेश बार्डर तक मजदूरों को लेकर जाएंगी। राजस्थान सरकार मजदूरों को व्यवस्था नहीं कर पाई है। ये उसी का परिणाम है कि पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव को व्यवस्था करनी पड़ी। यह केवल राजनीतिक बयानबाजी है। इससे कुछ नहीं होने वाला है। हमें मजदूर और प्रवासी का दर्द समझना पड़ेगा। उनके लिए व्यवस्था करनी पड़ेगी। शेखावत ने कहा कि जो साढ़े 12 लाख लोग राजस्थान में आने वाले थे, उनके लिए राज्य सरकार ने अब तक क्या किया है, क्या संसाधन जुटाएं हैं, किस तरह से उनको लाने का रोडमैप बनाया है, उसका खुलासा करना पड़ेगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री ने एक महीने पहले कहा था कि केंद्र सरकार यदि अनुमति दे तो हमारे पास 4000 बसें खड़ी हैं। हम तुरंत मजदूरों को ला सकते हैं और यहां से मजदूरों को उनके राज्य पहुंचा सकते हैं। जब केंद्र सरकार ने अनुमति प्रदान की तो ये बसें गायब हो गईं। फिर उन्होंने नया राग अलापा कि हमें रेलों की सुविधा प्रदान की जाए। अब रेलों की सुविधा केंद्र सरकार ने प्रदान कर दी। एक तरफ उत्तर प्रदेश जैसा राज्य है, जहां 500 रेल पहुंच गईं, जबकि दूसरी तरफ राजस्थान जैसा प्रदेश है, यहां ढाई की संख्या में भी रेलें नहीं पहुंची हैं।

शेखावत ने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा घोषणाओं से जीवन के हर क्षेत्र के लोगों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। आज के रोजगार, स्वास्थ्य, शिक्षा और ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को बढ़ावा देने के कदम देश की अर्थव्यवस्था को गति देंगे और भारत को एक वैश्विक शक्ति के रूप में स्थापित करेंगे। उन्होंने कहा कि पिछले पांच दिनों में, सरकार ने हर वर्ग को सशक्त बनाने और बुनियादी ढांचे को मज़बूत करने के कई कदम उठाए हैं। इस आर्थिक पैकेज द्वारा कई नीतिगत सुधारों का मार्ग प्रशस्त हुआ है, जो वास्तव में भारतीय अर्थव्यवस्था को लाभान्वित करेंगे और आत्मनिर्भर बनाएंगे।

Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

फेसबुक