Print this page

महीनों से शख्स को आ रही थी खांसी, गले के अंदर से निकली जोक Featured

फुजिआन. कई बार ऐसा होता है जब गले में इंफेक्शन हो तो खांसी आती रहती है. लेकिन अगर आपको दो महीने से खांसी आए तो यह समस्या आम नहीं है. दरअसल चीन के एक शख्स के साथ पिछले दो महीनों से ऐसा ही हो रहा था लेकिन जब यह शख्स डॉक्टर्स के पास पहुंचा तो उसे अपनी इस समस्या की एक बेहद ही खौफनाक वजह पता चली जिसने उसके होश उड़ा दिए. जब वह अस्पताल पहुंचे तो डाक्टरों के भी होश उड़ गए.

दरअसल यह मामला चीन के फुजिआन प्रांत का है. लगातार दो महीने तक खांसी झेल रहे एक शख्स के गले के अंदर से दो जोक निकाली गई है. मरीज ने बताया कि दो महीने तक जब उसकी खांसी ठीक नहीं हुई, तो वह वुपिंग काउंटी अस्पताल गया. उसने डॉक्टरों को बताया कि वह जब खांस रहा है तो उसके गले से खून निकल रहा है. जांच में डॉक्टरों ने पाया कि उसके गले में 2 जोंक चिपकी हुई थी. 'डेली मेल' की खबर के मुताबिक, चीन के फुजिआन प्रांत में रहने वाले एक शख्स को काफी दिनों से खांसी आ रही थी. पहले तो उसे लगा कि यह मौसम के कारण होगी, लेकिन बाद में उसे खांसते समय गले से खून आने लगा. शख्स जब वुपिंग काउंटी अस्पताल पहुंचा, तो उसका सीटी स्कैन कराया गया. सीटी स्कैन कराने के बाद भी वजह साफ नहीं हो सकी. इसके बाद डॉक्टरों ने ब्रॉन्कोस्कोपी की. ब्रॉन्कोस्कोपी में पता चला कि मरीज के गले में 2 जोक चिपकी हुई हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, एक जोंक दाहिने नथुने में थी, जबकि दूसरी जोंक उसकी ग्लोटिस के नीचे चिपकी हुई थी. इन जोंक की लंबाई लगभग तीन सेंटीमीटर (1.2 इंच) थी. मरीज ने बताया कि जोंक उसकी नाक के जरिए गले तक कैसे पहुंची, उसे इसकी खबर तक नहीं है. डॉक्टरों का कहना है, कि जोंक पानी के जरिए शरीर में पहुंची होगी. छोटी जोक को आंखों से नहीं देखा जा सकता रेस्पिरेट्री विभाग के डायरेक्टर डॉ. रॉव गुआंगयोंग ने बताया जिस समय मरीज ने पिया होगा उस वक्त जोंक काफी छोटी रही होगी और वह दिखाई नहीं दी होगी. पिछले दो महीने से जोंक गले और नाक के अंदर चिपककर खून चूस रही होगी, जिसके कारण उसका आकार तेजी से बढ़ गया. डॉक्टरों ने बताया कि मरीज को एनेस्थीसिया देकर जोंक निकाली गई है. मरीज की हालत में काफी सुधार हुआ है.

Rate this item
(0 votes)
newscreation

Latest from newscreation