newscreation

newscreation

भोपाल : मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने सीधी की घटना की तत्परतापूर्वक जाँच के लिये एसआईटी गठित कर जांच के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा है कि आरोपियों के विरूद्ध कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। जिला प्रशासन ने आरोपियों के मकानों पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई भी की है।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव के निर्देश पर राज्य शासन ने महिला डीएसपी के नेतृत्व में 9 सदस्यीय एसआईटी गठित की है। एसआईटी पूरे मामले की सघन जांच में ठोस साक्ष्य संकलित कर सात दिवस में रिपोर्ट सौंपेंगी। इससे दोषियों को कठोरतम सजा दिलाई जा सकेगी।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि घृणित एवं निंदनीय कार्य करने वाले समाज के दुश्मन हैं। इनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।

उल्लेखनीय है कि विगत दिवस सीधी जिले के मझौली थाना में अनुसूचित जनजाति छात्राओं से स्कॉलरशिप देने का लालच देकर गलत कार्य करने का मामला सामने आया था।

भोपाल : एक मई से 15 जून तक गर्मियों की छुट्टियाँ प्रदेश के सरकारी स्कूलों में चल रही है। स्कूलों में कक्षा 8वीं तक शैक्षणिक दिवसों में पीएम पोषण योजनांतर्गत विद्यार्थियों को दोपहर का मध्यान्ह भोजन देने का प्रावधान है। पीएम पोषण शक्ति योजना के राज्य समन्वयक श्री मनोज पुष्प ने बताया है कि ग्रीष्मकालीन छुट्टी में शासकीय विद्यालयों में मध्यान्ह भोजन का वितरण नहीं किया जा रहा है। भारत सरकार के ऑटोमेटेड मॉनीटरिंग सिस्टम (एएमएस) पर मध्यान्ह भोजन वितरण संबंधी त्रुटिवश रिपोर्टिंग करने वाले प्रभारी शिक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र संबंधित जिलों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा किये गये हैं।

पुष्प ने बताया है कि एक मई 2024 से 15 जून 2024 तक ग्रीष्मकालीन अवकाश होने से स्कूल बंद हैं। पीएम पोषण योजना से इस अवधि में खाद्यान्न आवंटन एवं वित्तीय राशि जारी नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार का एएमएस पोर्टल केवल एक मॉनीटरिंग एवं रिपोर्टिंग का माध्यम है। एएमएस पोर्टल की रिपोर्टिंग के आधार पर खाद्यान्न एवं भोजन पकाने की लागत राशि जारी नहीं की जाती है।

 

भोपाल : भोपाल शहर में भीषण गर्मी को देखते हुए आगामी तीन दिनों तक शटडाउन नहीं लिया जाएगा। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी शहर वृत्त भोपाल द्वारा उपभोक्ताओं की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने कहा है कि आगामी 28 मई मंगलवार तक शहर वृत्त भोपाल अंतर्गत किसी प्रकार का शटडाउन नहीं लिया जाएगा जिससे उपभोक्ताओं को असुविधा का सामना नहीं करना पड़े।

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने सभी उपभोक्ताओं से यह अपील की है कि उपभोक्ता अपने घरों में जरूरत के अनुसार ही बिजली उपकरणों का उपयोग करें। विद्युत उपकरणों को अनावश्यक चालू न रखें। इससे ऊर्जा की बचत हो सकेगी। ऊर्जा की बचत करने से इस भीषण गर्मी में न केवल विद्युत व्यवधानों में कमी आएगी वरन विद्युत देयकों में भी बचत होगी।

 

बांसटाल से शहीद स्मारक के सामने जीई रोड पर बारिश के दिनों घुटनों तक भरने वाले पानी की समस्या खत्म करने नाली चौड़ी करने के साथ ही पानी डायवर्ट करने नया नाला बनाया जा रहा है। इससे नाले के जरिए पानी सड़क की दूसरी तरफ पहुंचकर आसानी से बहकर निकल जाएगा। अभी तीन-चार दिन काम चलेगा।

इस दौरान शास्त्री चौक से जयस्तंभ चौक की ओर जाने वाली सड़क बंद रहेगी। जयस्तंभ चौक की ओर जाने वाले ट्रैफिक को सड़क के दूसरे हिस्से से गुजारा जा रहा है। यानी एक सड़क को टू-वे बनाया गया है। इससे यहां जाम की​ स्थिति भी बन रही है। जोन 4 के ईई पद्माकर श्रीवास ने बताया कि 3 से 4 दिनों में पाइप लाइन डालने का काम पूरा हो जाएगा।

सुबह स्टॉल में सो रहे सुहैल ने बदन दर्द होना बताते हुए देवेंद्र व रियाज को मेडिकल से गोली लाकर उन्हें देने कहा था, लेकिन जब उसे दूसरे व्यापारी अनिल व समीर के मौत की जानकारी देने पहुंचे तो वह स्टॉल में मृत मिला। जीवित होने की उम्मीद से उसे भी अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। कोरबा में लगे डिज्नीलैंड मेला में कपड़ों का स्टॉल लगाकर व्यवसाय कर रहे एक किशोर समेत तीन लोगों की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। मृतक अनिल पांडेय (29), समीर बेग (18) व समीर का चचेरा भाई सुहैल बेग (17) ने शुक्रवार की रात को मेला बंद होने के बाद दूसरे स्टाल संचालक देवेंद्र कुमार (28) व रियाल (33) के साथ चिकन व रोटी बनाकर खाए थे।

सुबह 5 बजे समीर ने बैग के स्टॉल पर पहुंचकर देवेंद्र व रियाज को उठाया। उसने खुद और अनिल पांडेय के पेट में तेज दर्द बताया। इसके बाद देवेंद्र व रियाज दोनों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले गए, जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

 

इसे लेकर शनिवार को मुख्यमंत्री ने अफसरों की बैठक लेकर उन्हें, इससे जुड़े प्रोजेक्ट तैयार करने को कहा है। सरकार की ओर से दी गई आधिकारिक जानकारी में कहा गया है कि, सड़कों पर खुले में घूमने वाले आवारा गौवंशों की सुरक्षा और इनसे जुड़े हादसों पर रोक लगाने के लिए ऐसा किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार आवारा मवेशियों को लेकर एक नया कदम उठाने जा रही है। अब प्रदेश में आवारा मवेशियों और सड़कों पर दिखने वाली गायों के लिए गौ-अभयारण्य बनाए जाएंगे। पिछली कांग्रेस सरकार ने गौठान तैयार किए थे, उसी अवधारणा पर इन अभयारण्यों को विकसित किया जा सकता है।

 

 

बिलासपुर । वनवासी कल्याण आश्रम और विद्या भारती के संयुक्त प्रयास से सरस्वती शिशु मंदिर तिलकनगर में दूरदराज से पहुंचे आदिवासी बच्चे गणित विज्ञान इंग्लिश का प्रशिक्षण ले रहे हैं। खास यह है कि शहरी आवोहवा चकाचौंध अति आधुनिक सुविधाओं से दूर इन बच्चों में विषय ज्ञान पाने के लिए गजब की जिज्ञासा है। इनका पॉजिटिव रिस्पांस शिक्षकों को भी पढ़ाने के लिए प्रेरित रहा है। शिक्षक शिष्य की आदर्श क्लास का उदाहरण देखने मिल रहा है।
शिक्षक चंद्रशेखर बिठालकर , श्रीमती ए शर्मा , अंजली पाठक , भरत श्रीवास , माधुरी बापते , संस्कार श्रीवास्तव , शिवराम चौधरी इन बच्चों का जीवन संवारने में लगे हुए हैं। कैरियर निर्माण, विषय चयन, भारतीय संस्कृति और सनातन समाज,वैज्ञानिक दृष्टिकोण, श्रेष्ठ नागरिक बनने की दृष्टि से प्रशिक्षण शामिल है। सुंदरलाल शर्मा ओपन यूनिवर्सिटी के कुलसचिव डा. भुवनसिंह राज के प्रयास से सरस्वती शिशु मंदिर तिलकनगर में पिछले कई साल से शिक्षण हो रहा है। सुबह 5 बजे से जागरण योगाभ्यास प्रात: कालीन विज्ञान, गणित, अंग्रेजी का शिक्षण स्वाध्याय, खेल पूरा अनुशासन देखने मिल रहा है। भारतमाता आरती देशकाल समाज के विषयों पर आधारित विषय विशेषज्ञों के द्वारा लिए जाने वाले बौद्धिक कालखंड के माध्यम से बच्चों में नैतिक शिक्षा सर्वांगीण विकास हो रहा है। चिकित्सक बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर रहे हैं। बच्चे काफी जिज्ञासु हैं और वह शिक्षकों से खुलकर सवाल पूछ कर उनका समाधान प्राप्त कर रहे हैं।

रायपुर : लोक शिक्षण संचालनालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम (आरटीई) अंतर्गत वर्ष 2022-23 में निजी विद्यालयों को जनवरी 2024 से अप्रैल 2024 तक वर्ष 2022-23 हेतु नर्सरी से 8वीं में अध्ययनरत विद्यार्थियों की शुल्क प्रतिपूर्ति राशि 185.91 करोड़ रूपए और कक्षा 9वीं से 12वीं में अध्ययनरत विद्यार्थियों की शुल्क प्रतिपूर्ति 20.71 करोड़ रूपए के विरूद्ध कुल 134 करोड़ 30 लाख 27 हजार 339 रूपए की राशि निजी विद्यालयों के खाते में अंतरित की जा चुकी है। अतः वर्ष 2022-23 में शेष लंबित राशि लगभग 70 करोड़ रूपए के भुगतान की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है।

वर्ष 2023-24 की प्रतिपूर्ति के लिए सत्रांत अगस्त माह का समय निर्धारित है। विद्यालयों द्वारा समय-सीमा में दावा आपत्ति किए जाने के पश्चात शुल्क प्रतिपूर्ति राशि के भुगतान हेतु कार्यवाही की जाएगी।

लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा स्पष्ट किया गया है कि आरटीई के तहत निजी विद्यालयों को शुल्क प्रतिपूर्ति के लगभग 285 करोड़ रूपए की राशि लंबित होने संबंधी समाचार असत्य है। इस संबंध में वस्तु स्थिति उपरोक्तानुसार स्पष्ट की गई है।

 


'स्त्री' और 'भेड़िया' जैसी जबरदस्त सफलताओं के लिए मशहूर मैडॉक फिल्म्स अपनी लेटेस्ट हॉरर-कॉमेडी 'मुन्जया' का मच अवेडिट ट्रेलर लेकर आ गया है. फिल्म के ट्रेलर में आप डर और खौफ के साथ कॉमेडी का तड़का भी है, जो आपको हंसने पर मजबूर कर देगा. शरवरी वाघ, मोना सिंह, अभय वर्मा, और सत्यराज और आदित्य सरपोतदार की इस फिल्म के ट्रेलर को अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है.

फिल्म 'मुन्जया' के बारे में एक कहानी है, जो 'मुन्नी' के लिए उसके प्रेम और जुनून को दिखाती है. हालांकि, 'मुन्जया' की शादी मुन्नी से नहीं हो पाती, जिसके बाद वह एक ऑब्सेसिव लवर बन जाता है. यह फिल्म एक लोककथा पर आधारित एक डरावनी कहानी है, जिसमें जबरदस्त कॉमेडी का तड़का लगाया गया है.

'मुन्जया' की लव स्टोरी

ट्रेलर की शुरुआत में एक शापित जगह और एक शापित पेड़ के बारे में बताया जाता है, जहां 'मुन्जया' अस्थियां गड़ी हैं. कहते हैं किसी मुन्नी से वह शादी करना चाहता था, लेकिन इससे पहले ही उसकी मौत हो गई. उसी दिन से वह इंतजार में है वो अपने वंशज के. जब वह मुक्त होगा और पूरी करेगा अपनी आखिरी इच्छा. फिल्म का ट्रेलर आपको डराने के साथ-साथ खूब हंसाता भी है.

7 जून को सिनेमाघरों में आएगी 'मुन्जया'

'मुन्जया' 7 जून को सिनेमाघरों में दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए दस्तक देगी. बता दें कि 'मुन्जया' का पहला सीजीआई कैरेक्टर है. फिल्म के ट्रेलर ने दर्शकों को और भी ज्यादा एक्साइटेड कर दिया है. फिल्म का संगीत सचिन सांघवी और जिगर सरैया ने तैयार किया है, जबकि सिनेमैटोग्राफी जॉन जैकब पय्यापल्ली ने की है. यह फिल्म भारतीय आस्था, कल्चर और मिथक के इर्द-गिर्द घूमती है.

 

 

मॉम-टू-बी दीपिका पादुकोण के घर इस साल किलकारियां गूंजने वाली हैं. दीपिका पादुकोण प्रेग्नेंट हैं और सितंबर के महीने में अपने पहले बच्चे का वेलकम करने वाली हैं. हाल ही में दीपिका पादुकोण मुंबई में वोटिंग के दौरान अपना वोट डालने निकलीं थीं, इसी दौरान एक्ट्रेस का बेबी बंप पहली बार नजर आया था. लेकिन सोशल मीडिया पर जहर घोलने वाले लोगों ने प्रेग्नेंट दीपिका पादुकोण को लेकर फूहड़ बातें करनी शुरू कर दीं. कुछ लोगों ने हद ही कर दी और एक्ट्रेस के बेबी बंप को फेक तक कह डाला. दीपिका पादुकोण ने इन्हीं भद्दे कमेंट्स और ट्रोलिंग के बीच इंस्टाग्राम पर अपना पहला पोस्ट शेयर किया है.

दीपिका ने शेयर किया पोस्ट

दीपिका पादुकोण ने बीती शाम अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट के स्टोरी सेक्शन में एक पोस्ट किया है. जहां दीपिका पादुकोण ने लिखा- 'हाय, मैं कल (आज) लाइव आ रही हूं...तो बने रहिए! ओके बाय...' दीपिका पादुकोण ने लाइव सेशन पर इसके अलावा किसी तरह की डिटेल्स नहीं दी हैं. दीपिका पादुकोण के यह पोस्ट शेयर करते ही फैंस के बीच खलबली मच गई है, लोग तरह-तरह के कयास लगा रहे हैं कि एक्ट्रेस आखिर लाइव में क्या कहने वाली हैं.

दीपिका पादुकोण का वर्कफ्रंट

मॉम-टू-बी दीपिका पादुकोण के लिए साल 2024 खास होने वाला है. दीपिका पादुकोण आखिरी बार सिल्वर स्क्रीन पर 'फाइटर' में ऋतिक रोशन के साथ स्क्रीन शेयर करती दिखाई दी थीं. तो वहीं अब जल्द ही एक्ट्रेस 'कल्कि 2898 एडी' में अपना जलवा दिखाती नजर आएंगी. 'कल्कि 2898 एडी' के बाद दीपिका पादुकोण, रोहित शेट्टी की 'सिंघम अगेन' में दिखाई देंगी. 'सिंघम अगेन' में दीपिका पादुकोण लेडी कॉप अवतार में नजर आएंगी. दीपिका पादुकोण की अपकमिंग फिल्मों को लेकर एक्ट्रेस के फैंस खूब एक्साइटेड हैं.

 

Page 1 of 5479

Ads

फेसबुक