राजनीति

राजनीति (6203)

नागपुर । कर्नाटक विधानसभा के बाहर लगाए गए आपत्तिजनक नारे को लेकर चल रहे विवाद के बीच, भारतीय जनता पार्टी के सांसद तेजस्वी सूर्या ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला हैं। उन्होंने कहा कि विभाजन कांग्रेस के डीएनए में शामिल है। सूर्या ने पार्टी को देश के बंटवारे के लिए जिम्मेदार ठहराकर आरोप लगाया कि देश को विभाजित करने के लिए कांग्रेस पूरी तरह से जिम्मेदार है।
मालूम हो कि कांग्रेस नेता सैयद नसीर हुसैन के समर्थकों ने कर्नाटक विधानसभा के बाहर उनकी राज्यसभा चुनाव जीत के बाद कथित तौर पर आपत्तिजनक नारे लगाए। वहीं, इसके बारे में पूछने पर सूर्या ने आरोप लगाया कि कांग्रेस देश को विभाजित करने के लिए जिम्मेदार पार्टी है। उन्होंने कांग्रेस पर कटाक्ष कर कहा कि कांग्रेस से इसके अलावा किसी और भी चीज की उम्मीद करना गलती होगी।
महाराष्ट्र के नागपुर शहर में उन्होंने बताया कि भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा चार मार्च को नागपुर में आयोजित नमो महा युवा सम्मेलन की एक रैली को संबोधित करने वाले हैं। भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष सूर्या ने बताया कि इस सभा में महाराष्ट्र से एक लाख से अधिक युवा भाग लेने वाले है।
वहीं, आगामी लोकसभा चुनाव से जुड़े सवाल के जवाब में तेजस्वी सूर्या ने कहा कि इस साल होने वाले लोकसभा चुनाव में दक्षिण भारत भाजपा का गढ़ होगा। उन्होंने दावा किया कि भाजपा कर्नाटक में सभी 28 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी तेलंगाना और तमिलनाडु में ऐतिहासिक जनादेश हासिल करेगी।

 

नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल फिर एलजी वीके सक्सेना और भारतीय जनता पार्टी पर विधानसभा में जमकर बरस पड़े। गुरुवार को विधानसभा में मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि एलजी सक्सेना ने अधिकारियों को धमकी देकर बस मार्शल योजना पर रोक लगा दी। उन्होंने कहा कि भाजपा पर बस मार्शल के लिए मगरमच्छ के आंसू बहा रही है। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा सच में मार्शल के साथ खड़े हैं, तब उनके साथ एलजी के पास जाकर दुबारा नियुक्त कराएं।
दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) और क्लस्टर बस में मार्शल के रूप में तैनात सिविल सिक्यॉरिटी वॉलंटियर्स को हटाने के मुद्दे पर दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल ने कहा कि यह योजना 2015 से 2022 तक सुचारू रूप से चली। केजरीवाल ने कहा, हमारी सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के वादे के साथ 2015 में सरकार बनाई थी। सरकार ने पांच साल में सीसीटीवी कैमरे लगाए, अंधेरे वाले स्थानों पर स्ट्रीट लाइट लगाईं और बसों में सीसीटीवी कैमरे और ‘पैनिक बटन’ लगाए और मार्शल तैनात किए। केजरीवाल ने कहा कि बस मार्शल योजना के तहत 8 साल तक सुचारू रूप से काम हुआ लेकिन 2023 में अधिकारियों ने यह कहकर सवाल उठाने शुरू कर दिए कि ये वॉलंटियर्स मार्शल के रूप में काम नहीं कर सकते। केजरीवाल ने आरोप लगाया, एलजी ने अधिकारियों को बस मार्शल योजना को रोकने के लिए कहा है।
केजरीवाल ने कहा, मैंने कहा कि सर मेरे लोग हैं, 280 करोड़ क्या उनकी सुरक्षा पर 2800 करोड़ खर्च करूंगा। मैंने कहा कि यदि सीसीटीवी से ही हो जाता तब राजभवन के चारों तरफ सीसीटीवी लगे ही हैं। पैनिक बटन भी लगा देते हैं, आपकी सुरक्षा हटा देते हैं। क्या जरूरत है आपकी सुरक्षा की। पूरी दिल्ली में सीसीटीवी लगा ही दिए हैं, पैनिक बटन और लगा देते हैं। दिल्ली पुलिस भंग कर देते हैं। कई लेयर की सुरक्षा होती है किसी समाज में।
उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि वह इस मुद्दे पर सिर्फ मगरमच्छ के आंसू बहा रही है। केजरीवाल ने कहा अब खुद हटाके बीजेपी वाले उनके धरने में जाकर मगरमच्छ के आंसू बहा रहे हैं। शर्म आनी चाहिए। अभी आपने (नेता विपक्ष) कहा कि इन्हें नियमित करना चाहिए। मैं करने को तैयार हूं, चलो अभी चलते हैं एलजी के पास। अगर माई के लाल हो तब अभी चलो मेरे साथ। मैं खाली कागज पर साइन करने के लिए तैयार हूं।

 

अहमदाबाद | लोकसभा चुनाव निकट हैं और राजनीतिक पार्टियों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं| एक ओर सीटों को लेकर घमासान मचा हुआ है तो दूसरी तरफ भाजपा ने गुजरात की 26 सीटों पर सेंस प्रक्रिया शुरू कर दी है| इस बीच, सास और बहु ने पंचमहल लोकसभा सीट के लिए सेंस प्रक्रिया के दौरान अपनी उम्मीदवारी दर्ज कराई। कालोल की पूर्व विधायक सुमनबेन चौहान और उनकी सास रंगेश्वरीबेन प्रभातसिंह चौहान ने पंचमहल लोकसभा सीट पर दावेदारी की है। रंगेश्वरीबेन चौहान पूर्व सांसद स्व. प्रभात सिंह चौहान की पत्नी हैं और सुमनबेन चौहान कालोल की पूर्व विधायक हैं। भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है, जिसमें अहमदाबाद सहित राज्य भर में लोकसभा उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया आयोजित की गई।

नई दिल्ली । त्रिपुरा तृणमूल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष तथा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे पीजूष कांती बिस्वास घर वापसी कर फिर कांग्रेस में शामिल हुए। कांग्रेस के त्रिपुरा प्रभारी गिरीश चोन्डनकर तथा त्रिपुरा कांग्रेस अध्यक्ष आशीष कुमार साहा ने पार्टी मुख्यालय में कहा कि श्री बिस्वास त्रिपुरा के प्रसिद्ध वकील और वरिष्ठ नेता है। उनकी घर वापसी से कांग्रेस मजबूत होगी। श्री बिस्वास ने श्री चोन्डनकर और श्री साह तथा अन्य नेताओं की उपस्थिति में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की।

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि टीएमसी से अभी भी बातचीत चल रही है। टीएमसी के लिए हमारे दरवाजे हमेशा खुले हैं। उधर टीएमसी ने भी कहा है कि वे इं‎डिया गठबंधन को मजबूत करना चाहते हैं और उनका सबसे बड़ा मकसद भाजपा को हराना है। इस मामले में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के वरिष्ठ नेता डेरेक ओ ब्रायन ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी के पश्चिम बंगाल की सभी 42 लोकसभा सीटों, असम की कुछ सीट और मेघालय की एक सीट पर चुनाव लड़ने के रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। बता दें ‎कि डेरेक ओ ब्रायन का यह बयान उस समय आया है, जब कहा गया है कि कांग्रेस जल्द ही तृणमूल कांग्रेस के साथ सीट समझौते को अंतिम रूप दे देगी। वहीं कांग्रेस ने कहा है कि उनके टीएमसी के लिए दरवाजे हमेशा के ‎लिए खुले हैं।
भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि टीएमसी से अभी भी बातचीत चल रही है। टीएमसी के लिए हमारे दरवाजे हमेशा खुले हैं। टीएमसी ने भी कहा है कि हम ममता बनर्जी का बड़ा सम्मान करते हैं। कांग्रेस और ममता बनर्जी नीत तृणमूल कांग्रेस विपक्षी ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस’ का हिस्सा हैं। दोनों दलों के बीच हालां‎कि सीट बंटवारे पर सहमति नहीं बन पा रही है, जिसके चलते दोनों दलों में गठबंधन की बातचीत रुक गई थी। अब कहा जा रहा है कि दोनों दलों में फिर से बातचीत हुई है।

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने कैबिनेट मंत्रियों से ऐसी योजना तैयार करने और उसे तीन मार्च को मंत्रिपरिषद की बैठक में पेश करने को कहा है, जिसका क्रियान्वयन व आकलन किया जा सके तथा वह स्पष्ट रूप से परिभाषित हो। प्रधानमंत्री यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि चुनाव प्रक्रिया के बीच सरकार का कामकाज जारी रहे और अगले 100 दिनों के लिए एजेंडा तैयार करने का उनका आह्वान इसी प्रयास का हिस्सा है।
सरकारी सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी। यह उल्लेखनीय है कि मोदी ने 21 फरवरी को अपने मंत्रिमंडल के सहकर्मियों को अगले 100 दिनों के लिए एक कार्य योजना तैयार करने को कहा था। सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से कार्य योजना तैयार करने से पहले वरिष्ठ नौकरशाहों जैसे अनुभवी लोगों, जमीनी स्तर पर काम करने वालों और अपने-अपने क्षेत्रों के विशेषज्ञों से व्यापक परामर्श करने को कहा है।
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ने मंत्रियों और उनके मंत्रालयों से उस अवधि के एजेंडे पर मंथन करने को कहा है, जो अप्रैल-मई में संभावित लोकसभा चुनावों के बाद नई सरकार के कार्यभार संभालने से पहले की संभावित अवधि भी है।

आम चुनाव से पूर्व कांग्रेस को आर्थिक अपंग बनने की कोशिश


नई दिल्ली । कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने बड़ा आरोप लगाकर कहा कि भाजपा और मोदी सरकार कांग्रेस को आर्थिक रूप से अपंग बना रही है। कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि मोदी सरकार, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पर आर्थिक हमला कर, कांग्रेस को कमजोर करने की कोशिश कर रही है। जिस तरह से 2016 में नोटबंदी हुई थी, ठीक उसी तरह अब मोदी सरकार कांग्रेस के खिलाफ खाता बंदी अभियान चला रही है। कांग्रेस सांसद ने कहा कि हम डरने वाले नहीं हैं, हम इसका डटकर मुकाबला करने वाले है। यह ब्लैकमेल की राजनीति है, हफ्तावसूली का प्रतीक है।
रमेश ने कहा कि साल 2018-2023 के बीच करीब 30 निजी कंपनियों के खिलाफ एजेंसियों ने एक्शन लिया। फिर इन्हीं कंपनियों से पिछले चार साल में बीजेपी को 335 करोड़ रुपए का चंदा मिला है। ये हफ्ता वसूली है। इसके पहले आयकर विभाग द्वारा एआईसीसी, भारतीय युवा कांग्रेस और एनएसयूआई खातों से 65.89 करोड़ रुपये काटने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पार्टी नेता केसी वेणुगोपाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस के बैंक खातों से पैसे चुरा रही है।
बैंकों से मिली ताजा जानकारी के मुताबिक, बीजेपी सरकार ने बैंकों को हमारी जमा राशि में से करीब 65.89 करोड़ रुपये सरकार को ट्रांसफर करने के लिए मजबूर किया। भाजपा के विपरीत, हमने यह पैसा पार्टी के सामान्य कार्यकर्ताओं से हासिल किया। संसदीय चुनाव से ठीक पहले इसका क्या मतलब है? वे अनिवार्य रूप से बैंक से हमारा पैसा चुरा रहे हैं। इस मौके पर अजय माकन ने कहा कि मोदी सरकार और इनकम टैक्स के अधिकारियों ने कांग्रेस के बैंक खातों से 65.8 करोड़ रुपए चोरी कर लिए। इस मामले में हमने इनकम टैक्स अपीलेट ट्रिब्यूनल में अर्जी थी, जिसमें 21 फरवरी को सुनवाई होनी थी। लेकिन सुनवाई से एक दिन पहले इनकम टैक्स के अफसरों ने बैंक शाखाओं में जाकर धमकी दी और डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से देकर 65.8 करोड़ वसूल लिए।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले माह के शुरु में पश्चिम बंगाल के दौरे में रहने वाले हैं। जानकारी अनुसार पीएम मोदी 1 और 2 मार्च को दो दिवसीय दौरे पर बंगाल जाएंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी आराम बाग और कृष्णानगर का दौरा भी करेंगे। यह इलाका पश्चिम बंगाल के नदिया जिले में आता है। एक अन्य जानकारी अनुसार प्रधानमंत्री मोदी 6 मार्च को बारासात जाएंगे। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में संदेशखाली घटना होने के बाद से ही प्रधानमंत्री मोदी के बंगाल दौरे को लेकर लगातार कयास लगाए जा रहे थे। ऐसे में खबर पीएम मोदी के दौरा कार्यक्रम की खबर आई है, जिसे लेकर कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी का पश्चिम बंगाल दौरा एक तरह से लोकसभा चुनावों का शंखनाद होगा। इसी के साथ एक बार फिर बंगाल में भाजपा को ज्यादा से ज्यादा सीटें दिलाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी कमर कसते नजर आएंगे। भाजपा ने पार्टी स्तर पर लोकसभा सीटों पर जीत दिलाने के लिए अभियान चलाया हुआ है, ऐसे में पीएम मोदी इसे मजबूती प्रदान करते नजर आएंगे।

नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी को निशाने साधकर कहा, इन लोगों ने हमारे देश को पाकिस्तान बना दिया है। केजरीवाल ने कहा, आज खुलेआम विधायकों को खरीदा जा रहा है. हमारे विधायकों को 25 करोड़ रुपए ऑफर किए गए। काले धन से विधायकों को खरीद कर खुलेआम सरकार गिराई जा रही है। धर्म से लोगों का विश्वास खत्म होता जा रहा है।
केजरीवाल का कहना था कि देश को 75 साल बाद अच्छी शिक्षा की उम्मीद देने वाला मनीष सिसोदिया आज जेल के अंदर है। धर्म जेल के अंदर और हमारी बेटियों को छेड़ने वाला बृजभूषण (कैसरगंज से बीजेपी सांसद) सत्ता का सुख भोग रहा है।
उन्होंने कहा, गरीबों को दवाइयां दिलाने वाला सत्येंद्र जेल के अंदर है और और चुन-चुन कर देश के सबसे कुकर्मी और भ्रष्ट लोगों को अपनी पार्टी में शामिल कराके सत्ता का सुख भोग रहे हैं।
केंद्र से किसानों की मांगों को लेकर भी केजरीवाल ने कहा, किसान हमारे अन्नदाता हैं। किसान सबसे ज्यादा मेहनत करता है। किसान दिन-रात, सर्दी-गर्मी और बरसात में पसीना बहाता है और हमारे लिए अन्न उगाता है। क्या किसान की मांग नाजायज है। किसान की मांग है कि मेरी फसल का मुझे पूरा दाम मिलना चाहिए। आखिर किसान को यह सब क्यों करना पड़ रहा है?

लखनऊ । लोकसभा चुनाव से पहले रालोद में बड़े बदलाव की तैयार होने जा रही है। जानकारी ‎मिली है ‎कि रालोद के अध्यक्ष जयंत चौधरी पूरे संगठन की काटछांट करेंगे। इस संबंध में फीडबैक भी लिया जा चुका है। इस दौरान निष्क्रिय चल रहे कई प्रमुख पदाधिकारी हटाए जाएंगे। भाजपा गठबंधन में जाने की तैयारियों के साथ ही रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने लोकसभा चुनाव की तैयारियां तेज कर दी हैं। चुनाव से पहले जयंत पूरे संगठन की ओवरहॉलिंग करेंगे। इसके लिए वे लगातार पार्टी के राष्ट्रीय व प्रदेश पदाधिकारियों, विधायकों के साथ बैठक कर रहे हैं। माना जा रहा है कि वे पार्टी में प्रमुख पद लेने के बाद भी निष्क्रिय चल रहे कई प्रमुख पदाधिकारियों को हटाएंगे। बदले हालात और लोकसभा चुनाव करीब आने के साथ ही रालोद में भी हलचल बढ़ी है। हाल के दिनों में जयंत ने पहले प्रदेश अध्यक्ष, फिर सभी नौ विधायकों, फिर प्रदेश कार्यकारिणी व राष्ट्रीय पदाधिकारियों, युवा विंग और प्रवक्ताओं की भी बैठक की है। इसमें उन्होंने जहां संगठन के लिहाज से फीडबैक लिया है।
उन्होंने निष्क्रिय नेताओं व पदाधिकारियों की सूची भी मांग ली है। बूथ स्तर तक संगठन को सक्रिय करने और काम करने और न करने वालों की ग्रेडिंग करने को कहा है। बताया जा रहा है कि लोकसभा चुनाव से पहले संगठन में बड़े फेरबदल की तैयारी है। जल्द ही इसके परिणाम सामने आएंगे। उन्होंने इन बैठकों में पांच साल क्षेत्र में सक्रिय रहे नेताओं को ही टिकट देने की बात कही है। इस बीच कुछ अन्य दल के राष्ट्रीय नेता भी रालोद के संपर्क में आए हैं, जिनको जल्द ही पार्टी ज्वाइन कराने की भी तैयारी है। भाजपा के साथ गठबंधन के औपचारिक एलान के बाद पार्टी एक बड़ा कार्यक्रम भी करेगी। इसकी भी तैयारियां शुरू कर हो गई हैं।

Page 1 of 444
  • span>- RO No 12737/60 - "
  • RO NO 12710/60 "
  • RO No 12710/60 "
  • - RO No 12737/60 - "

Ads

span>- RO No 12737/60 - "
RO NO 12710/60 "
RO No 12710/60 "
- RO No 12737/60 - "

फेसबुक