रामोजी राव के निधन पर सितारों ने जताया शोक, एसएस राजामौली और एमएम कीरावणी ने दी श्रद्धांजलि

हैदराबाद । मीडिया दिग्गज और ईनाडु और रामोजी फिल्म सिटी के संस्थापक रामोजी राव का 8 जून को हैदराबाद में निधन हो गया। फिल्म निर्देशक एस.एस. राजामौली, संगीतकार एम.एम. कीरावणी और अन्य लोगों ने फिल्म सिटी में ईनाडु और रामोजी फिल्म सिटी के संस्थापक रामोजी राव को अंतिम सम्मान दिया। इसके साथ ही जूनियर एनटीआर, चिरंजीवी, मनोज मांचू, सुधीर बाबू जैसे कई साउथ सितारों और अन्य ने वीडियो जारी कर अपनी संवेदना व्यक्त की। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपनी संवेदनाएं व्यक्त कीं। फिल्म सिटी में रामोजी राव को अंतिम श्रद्धांजलि देने कई सितारे पहुंचे। सभी की आंखें नम दिखीं। पीएम मोदी ने पोस्ट साझा करते हुए लिखा, 'रामोजी राव गारू का निधन अत्यंत दुखद है। वे एक दूरदर्शी व्यक्ति थे, जिन्होंने भारतीय मीडिया में क्रांति ला दी। उनके समृद्ध योगदान ने पत्रकारिता और फिल्म जगत पर अमिट छाप छोड़ी है। अपने उल्लेखनीय प्रयासों के माध्यम से उन्होंने मीडिया और मनोरंजन जगत में नवाचार के नए मानक स्थापित किए। रामोजी राव गारू भारत के विकास के प्रति बेहद भावुक थे। मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे उनसे बातचीत करने और उनके ज्ञान से लाभ उठाने के कई अवसर मिले। इस कठिन समय में उनके परिवार, दोस्तों और अनगिनत प्रशंसकों के प्रति संवेदना।' वहीं, जूनियर एनटीआर ने रामोजी राव को श्रद्धांजलि देते हुए तेलुगु में एक लंबा नोट लिखा। उन्होंने लिखा, 'रामोजी राव जैसे दूरदर्शी व्यक्ति लाखों में एक होते हैं। एक मीडिया टाइकून और भारतीय सिनेमा के दिग्गज, उनकी अनुपस्थिति अपूरणीय है। यह खबर कि वह अब हमारे बीच नहीं हैं, बहुत दुखद है। मैं उन यादों को कभी नहीं भूल पाऊंगा, जब मुझे फिल्म 'निन्नू चूडालानी' से तेलुगु फिल्म उद्योग में पेश किया गया था। उनकी आत्मा को शांति मिले और उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं।' मनोज मांचू ने पोस्ट साझा कर लिखा, 'रामोजी राव गारू के निधन से बहुत दुखी हूं। बचपन से ही मैं हमेशा उनका सम्मान करता था। उनकी उल्लेखनीय यात्रा और विरासत हम सभी को प्रेरित करती है। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। परिवार और प्रियजनों को शक्ति प्रदान करता हूं। ओम शांति। आपकी बहुत याद आएगी सर।' सुधीर बाबू ने लिखा, 'भारतीय मीडिया और फिल्म उद्योग में एक दूरदर्शी व्यक्ति, चेरुकुरी रामोजी राव गरु के निधन से बहुत दुखी हूं, जिन्होंने अपने अग्रणी कार्यों के साथ एक अमिट छाप छोड़ी। उनके प्रियजनों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। उनकी आत्मा को शांति मिले ओम शांति।'

Rate this item
(0 votes)

Ads

फेसबुक