कोई भी ट्वीट करने से पहले जान लें ट्विटर के नियम Featured

से ही आतंकवाद, चाइल्ड सेक्सुअल एक्सप्लोइटेशन, गाली गलौज, हेट फुल विचार, सुसाइड या खुद को हानि पहुंचाने वाले ट्वीट भी ट्विटर अलाउड नहीं करता है। इसी प्रकार से सेंसिटिव मीडिया में ग्राफिक वायलेंस या फिर एडल्ट कंटेंट को भी ट्विटर बढ़ावा नहीं देता है।

 

ट्विटर आज के समय में एक बेहद महत्वपूर्ण सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म बन चुका है। आज हर कोई चाहता है, कि वह ट्विटर पर चल रहे भिन्न विचारों में अपनी राय एक ट्वीट के माध्यम से रखें। लगभग प्रत्येक ही दिन टि्वटर ट्रेंड्स की चर्चा सोशल मीडिया पर आम बात है। 

टि्वटर ट्रेंड्स कुछ इतनी चर्चा में रहता है कि उसका रेफरेंस मेन स्ट्रीम टेलीविजन मीडिया भी शामिल करते हैं। पर क्या आप जानते हैं कि ट्विटर के किन नियमों को आप को ध्यान में रखना आवश्यक है अन्यथा बड़ी मेहनत से बनाया गया आपका टि्वटर अकाउंट खतरे में पड़ सकता है। आइए जानते हैं इनमें से कुछ महत्वपूर्ण नियमों के बारे में।

इसे भी पढ़ें: नए साल में अपने चाहने वालों को गिफ्ट में दें ये बेहतरीन 'गैजेट्स'

वास्तव में ट्विटर का परपज पब्लिक कन्वर्सेशन को बढ़ावा देना है, लेकिन किसी भी प्रकार की हिंसक ट्वीट, हैरेसमेंट इत्यादि बिहेवियर को ट्विटर प्रमोट नहीं करता है। बल्कि किसी भी व्यक्ति के विचारों को आजादी पूर्वक और सुरक्षित ढंग से व्यक्त करने में यह विश्वास रखता है। मतलब बड़ा साफ है कि ट्विटर के जरिए आप किसी को धमकी नहीं दे सकते हैं या हिंसा को महिमामंडित नहीं कर सकते हैं। 

 

ऐसे ही आतंकवाद, चाइल्ड सेक्सुअल एक्सप्लोइटेशन, गाली गलौज, हेट फुल विचार, सुसाइड या खुद को हानि पहुंचाने वाले ट्वीट भी ट्विटर अलाउड नहीं करता है। इसी प्रकार से सेंसिटिव मीडिया में ग्राफिक वायलेंस या फिर एडल्ट कंटेंट को भी ट्विटर बढ़ावा नहीं देता है। और अगर आप इस तरह के ट्वीट करते हैं या ऐसे ट्वीट को शेयर भी शेयर करते हैं, तो आपका अकाउंट खतरे में पड़ सकता है। 

 

इसी प्रकार किसी भी लीगल सर्विस या सामान का प्रमोशन भी या उसकी फोटो प्रमोट करना भी ट्विटर द्वारा प्रतिबंधित है, तो अगर आप ट्विटर पर चाहते हैं कि आपका अकाउंट सेफ रहे और आगे बढ़े तो इस तरह की गतिविधियों को जाने अनजाने करने से आपको बचना चाहिए। बल्कि इस तरह की कोई गतिविधि अन्य व्यक्ति भी करता है तो उसकी रिपोर्ट भी ट्विटर से आप कर सकते हैं।

इसके अलावा देखा जाए तो प्राइवेसी पर भी ट्विटर का नियम बड़ा साफ है। मतलब किसी अन्य व्यक्ति की प्राइवेट इंफॉर्मेशन आप पब्लिक नहीं कर सकते हैं। जैसे कि उसके घर का नंबर या एड्रेस बिना उसकी अनुमति के आप ट्विटर पर नहीं डाल सकते, इसके अलावा बिना किसी के सहमति के आप किसी की फोटो या सेंसिटिव इंफॉर्मेशन भी पब्लिश नहीं कर सकते हैं। परंतु सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण ट्विटर की 'Platform manipulation and spam' की पॉलिसी है। 

 

जी हाँ! मतलब साफ है कि आप इस प्लेटफार्म का उपयोग चीजों को मैनिपुलेट करने में नहीं कर सकते हैं, साथ ही Impersonation को भी ट्विटर अलाउड नहीं करता है। इसके साथ सिविक इंटीग्रिटी यानी नागरिकों की संवैधानिक अधिकारी को मैनिपुलेट करने में भी ट्विटर विश्वास नहीं रखता है। 

 

इसीलिए लोगों को मिस लीड करना मना है, मतलब जाहिर है कि आप प्रमाणिकता के साथ ही अपनी ट्वीट्स आगे बढ़ा सकते हैं। यहां तक कि कॉपीराइट और ट्रेडमार्क का भी आपको ध्यान रखना जरूरी है। 

 

तो देखा आपने ट्विटर की पॉलिसी लोगों के हक में जाहिर तौर पर है और अगर आप भी इस चीज का प्रयोग जारी रखना चाहते हैं, तो निश्चित तौर पर आपको इन नियमों का पालन करना चाहिए। 

 

- विंध्यवासिनी सिंह

Rate this item
(0 votes)

Ads

फेसबुक