बिज़नस

बिज़नस (615)

नई दिल्ली । भारत की कार बनाने वाली प्रमुख कंपनी मारुति सुजुकी ने 20 लाख गाड़ियों के निर्यात का आंकड़ा पूरा कर लिया है। कंपनी ने एस प्रेसो, ‎स्विफट और ‎विटारा ब्रेजा की एक खेप गुजरात के मुंद्रा पोर्ट से दक्षिण अफ्रीका के लिए रवाना की। मारुति सुजुकी वित्त वर्ष 1986-87 से वाहनों का निर्यात कर रही है। कंपनी का निर्यात होने वाला सबसे पहला बड़ा कंसाइनमेंट 500 कारों का था, जिसे सितंबर 1987 में हंगरी भेजा गया। वित्त वर्ष 2012-13 में मारुति सुजुकी ने 10 लाख गाड़ियों के ‎‎निर्यात का आंकड़ा पार किया। इन 10 लाख गाड़ियों में से 50 फीसदी से अधिक यूरोप के विकसित देशों में ‎निर्यात हुईं। अब कंपनी ने और 10 लाख गाड़ियों का ‎निर्यात केवल 8 सालों में कर लिया है। मारुति सुजुकी का लैटिन अमेरिका, अफ्रीका और एशिया क्षेत्र के उभरते बाजारों पर विशेष फोकस है। कंपनी ने कहा है कि मारुति सुजुकी चिली, इंडोनेशिया, दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका के बाजारों में अच्छी पैठ हासिल करने में कामयाब रही है। इन बाजारों में अल्टो, बेलेनो, ‎डिजायर जैसे मॉडल पॉपुलर चॉइस बनकर उभरे हैं। इस साल जनवरी से मारुति सुजुकी ने ‎जिमी का भी ‎निर्यात शुरू किया है। ‎जिमी के लिए भारत प्रोडक्शन बेस है। मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के एमडी व सीईओ केनिची आयुकावा ने इस उपलब्धि पर कहा कि कंपनी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मेक इन इंडिया विजन को लेकर प्रतिबद्ध है। 20 लाख गाड़ियों का ‎निर्यात इस बात का सबूत है। अभी हम 100 से ज्यादा देशों में 14 मॉडल्स के लगभग 150 वेरिएंट ‎‎निर्यात करते हैं। कंपनी पिछले 34 सालों से वाहनों का ‎‎निर्यात कर रही है।

नई दिल्ली । कोरोना कॉल में लॉकडाउन के दौरान सब कुछ ठप था। लेकिन जब से अनलॉक हुआ है, अर्थव्यवस्था का हर क्षेत्र पटरी पर आने लगा है। खास तौर से स्टेनलेस स्टील की कीमतों ने तो कारोबारियों को मायूस ही कर दिया है। दिल्ली में बर्तनों के थोक बाजार डिप्टीगंज में स्टेनलेस स्टील यूटेन्सल्स ट्रेडर्स असोसिएशन का कहना है कि स्टेनलेस स्टील समेत हर तरह के मेटल के दामों में आग लगी हुई है। दीपावली पर काम ठीक रहा। उससे उम्मीद थी कि आने वाले समय में बाजार उठेगा, लेकिन दाम बढ़ोतरी ने हालात खराब कर ‎दिया है। इस समय स्टेनलेस स्टील का औसत दाम 215 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गया है। यह दीपावली के समय करीब 180 रुपये प्रति किलो था। मतलब चार महीने में ही इसके दाम में करीब 20 फीसदी की बढ़ोतरी हो गई है। एक होलसेलर रिटेलर को माल बेचते हैं, पहले अगर वो 500 किलो माल ले जाता था, अब वह 100-200 किलो माल ले जा रहा है। अब जिस भाव वह माल ले गया है, यदि उसमें बिकेगा नहीं तो नुकसान तय है। उनका कहना है कि इस समय कारोबार में बने रहने के लिए ट्रेडर्स भी मिनिमम परचेज एंड स्टोरेज कर रहे हैं। इसका असर होलसेल कारोबारियों की बिक्री पर पड़ रहा है। अब कब रेट कम होंगे या कब बिजनेस उठेगा, यह कोई नहीं जानता। कारोबारियों का कहना है कि अब स्टेनलेस स्टील का बिजनेस किचन तक सीमित नहीं रहा है। किचन से 10 गुना खपत इंफ्रास्ट्रक्चर में बढ़ गई है। बैंच, टेबल, रेलिंग, गेट, मेट्रो के काम से लेकर इंडस्ट्रियल और रेजिडेंशियल सेक्टर में स्टेनलेस स्टील का काफी मांग है।

नई दिल्ली । देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने सभी ग्राहकों को अलर्ट जारी किया है। एसबीआई ने अपने करोड़ों ग्राहकों को यूपीआई फ्रॉड को लेकर अलर्ट किया है। अपने ट्विटर हैंडल पर इसकी जानकारी दी है. एसबीआई ने कहा है कि अगर आपको यूपीआई के जरिए अकाउंट से पैसे डेबिट किए जाने का एसएमएस अलर्ट मिलता है, लेकिन आपके द्वारा किसी प्रकार का कोई डेबिट नहीं किया गया है तो अलर्ट हो जाएं और सबसे पहले यूपीआई सर्विस को बंद कर दें। अलर्ट जारी करते हुए एसबीआई ने ग्राहकों को कुछ सुझाव भी दिए हैं जिनका पालन करने को कहा है। एसबीआई ने यूपीआई सेवा को बंद करने के लिए जानकारी भी शेयर की है। बैंक ने कहा कि यूपीआई सेवा को बंद करने के लिए ग्राहक टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800111109 पर कॉल कर सकते हैं या फिर आईवीआर नंबर 1800-425-3800/1800-11-2211 पर भी कॉल कर सकते हैं। इसके अलावा वेबसाइट पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। साथ ही 9223008333 नंबर पर एसएमएस भेज कर शिकायत बता सकते हैं।
एसबीआई का मकसद ग्राहकों के पैसे सुरक्षित रखना है। बैंक अपने ट्विटर हैंडल और एमएमएस के जरिए ग्राहकों को अलर्ट भेजता रहता है! बता दें कि लाकडाउन के दौरान \बैंकिंग फ्रॉड के मामले बढ़े हैं! आरबीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार डिजिटल लेनदेन के चलते साल 2018-19 में 71,543 करोड़ रुपए का बैंकिंग फ्रॉड हुआ है! इस अवधि में बैंक फ्रॉड के 6800 से अधिक मामले सामने आए. साल 2017-18 में बैंक फ्रॉड के 5916 मामले सामने आए थे! इनमें 41,167 करोड़ रुपए से अधिक की धोखाधड़ी हुई थी! पिछले 11 वित्त वर्ष में बैंक फ्रॉड के कुल 53,334 मामले सामने आए हैं, जबकि इनके जरिये 2.05 लाख करोड़ रुपए की धोखाधड़ी हुई है।

नई दिल्ली । लगातार पेट्रोल की कीमतों में हो रही बढ़ोत्तरी के बाद महंगे हो रहे रसोई के सामान ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। इस महीने प्याज, दाल, खाने के तेल सहित मसालों के दाम में भी तेजी देखी गई है। प्याज की कीमतें जनवरी की तुलना में 25 से 30 प्र‎तिशत अधिक हैं। वहीं मसूर और उड़द दाल की कीमतें जनवरी की तुलना में 10 फीसदी बढ़ी हैं, जबकि इसी अवधि में अरहर की कीमतें 20 फीसदी तक उछल गई हैं। थोक खाद्य तेल की कीमतें इस साल विभिन्न तेलों के लिए 30 से 60 फीसदी तक बढ़ गई हैं। एक महीने से प्याज की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। इन दिनों खुदरा बाजार में प्याज 60 रुपए किलो तक मिल रही है। गाजीपुर मंडी में इस वक्त प्याज की कीमत 20 से लेकर 40 प्रति किलो तक चल रही है। ताजा प्याज की आवक राजस्थान से शुरू तो हो गई है लेकिन वह फिलहाल काफी कम है। इसीलिए कीमतों पर असर फिलहाल नहीं दिखाई पड़ रहा है।
मसालों में तेजी देखने को मिल रही है और अगस्त 2016 के स्तर पर हल्दी कारोबार कर रहा है। जनवरी से अब तक धनिया में करीब 25 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। जनवरी से अब तक चना में करीब 22 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी का सीधा असर महंगाई पर पड़ता है। डीजल के महंगा होने से ट्रांसपोर्टेशन कॉस्ट में इजाफा हो गया है और इस बढ़ी लागत का हवाला देकर ट्रांसपोर्टर भाड़ा दरें बढ़ाने की तैयारी करने लगे हैं।

नई दिल्ली | रिलायंस जियो 'न्यू जियोफोन 2021 ऑफर' लेकर आई है। इस खास ऑफर में नए यूजर्स के लिए 1999 रुपये और 1499 रुपये वाले प्लान हैं। जियो अपने मौजूदा ग्राहकों के लिए भी एक स्पेशल ऑफर लेकर आई है। यह ऑफर 749 रुपये वाला है। 749 रुपये वाला यह प्लान इसलिए खास है कि इसे एक बार रिचार्ज कराने के बाद आपको 1 साल के लिए रिचार्ज से छुट्टी मिल जाएगी। जियोफोन के इस प्लान में महीने का खर्च करीब 60 रुपये पड़ेगा। तो आइए जानते हैं कि इस प्लान में आपको और क्या-क्या बेनेफिट मिलेंगे।

साल भर फ्री कॉलिंग और अनलिमिटेड डेटा
जियोफोन (JioPhone) के 749 रुपये वाले ऑफर में 12 महीने के लिए अनलिमिटेड सर्विस मिलेगी। यानी, यह प्लान लेने के बाद आपको 365 दिन फ्री वॉइस कॉलिंग का फायदा मिलेगा। इस प्लान में अनलिमिटेड डेटा (हर महीने 2GB हाई स्पीड डेटा) मिलेगा। जियो का यह ऑफर यूजर्स को 1 मार्च से उपलब्ध होगा। हालांकि, जियो ने प्लान के साथ मिलने वाले SMS बेनेफिट्स का जिक्र नहीं किया है।

फ्री फोन और साल भर फ्री कॉलिंग के साथ अनलिमिटेड डेटा
JioPhone के लिए रिलायंस जियो का 1499 रुपये वाला प्लान भी खास है। इस प्लान में महीने का खर्च करीब 125 रुपये पड़ेगा। जियो के इस ऑफर के तहत नए यूजर्स को JioPhone डिवाइस भी मिलेगा। साथ ही, 12 महीने के लिए अनलिमिटेड सर्विस मिलेगी। प्लान में साल भर के लिए फ्री कॉलिंग का फायदा मिलेगा। साथ ही, अनलिमिटेड डेटा (हर महीने 2GB हाई स्पीड डेटा) भी प्लान के तहत मिलेगा।

मुंबई | मुंबई में उद्योगपति और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी के घर के बाहर संदिग्ध स्कॉर्पियो के मिलने से मचे हड़कंप के बीच एक और बड़ी खबर आई है। कारोबारी मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली संदिग्ध कार से एक धमकी भरा लेटर भी बरामद हुआ है। इस लेटर के सामने आने के बाद यह मामला और भी सनसनीखेज हो गया है। मुंबई पुलिस के सूत्र के मुताबिक, यह लेटर मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी को संबोधित करते हुए झमकी भरे लहजे में लिखा गया है। टूटी-फूटी अंग्रेजी में लिखे गए इस पत्र में कहा गया है कि मुकेश भाई अभी तो यह ट्रेलर है।

'हाथ से लिखे इस लेटर में मुकेश अंबानी और नीता अंबानी को संबोधित किया गया है। इसमें धमकी देते हुए लिखा गया है कि मुकेश भाई अभी तो यह ट्रेलर है और पूरी फैमिली को खत्म करने की तैयारी कर ली गई है।' गुरुवार शाम को संदिग्ध कार मिलने के बाद मुंबई पुलिस बेहद सतर्क है और बड़ी संख्या में अपने जवानों को तैनात कर दिया है। इस कार से जिलेटिन की 20 छड़ें भी बरामद की गई हैं। कार की नंबर प्लेट भी संदिग्ध मिली है, जिसके चलते शंकाएं और गहरा गई हैं।

वहीं, मुंबई पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि गामदेवी पुलिस थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की अनेक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। मुकेश अंबानी के आवास एंटीलिया के बाहर कमांडो तैनात कर दिए गए, पूरा इलाका छावनी में तब्दील हो गया है। आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों में रिकॉर्ड फुटेज की जांच की जा रही है।
पुलिस ने बताया कि वाहन के नंबर प्लेट पर जो पंजीकरण नंबर है वह अंबानी की सुरक्षा में लगी एक एसयूवी के ही समान है। उन्होंने बताया कि कार के अंदर से एक पत्र भी मिला है। महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ट्वीट किया, 'मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के निकट एक स्कॉर्पियो वैन में जिलेटिन की 20 छड़ें मिली हैं। मुंबई पुलिस की अपराध शाखा मामले की जांच कर रही है और जल्द ही जांच के नतीजे सामने आ जाएंगे।'

दरअसल, गामदेवी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत कारमाइकल रोड पर एक संदिग्ध स्कॉर्पियो कार खड़ी मिली। पुलिस को इसकी सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस और बम निरोधक दस्ते की टीमें पहुंच गईं। कार की जांच की गई, जिसमें विस्फोटक सामग्री बनाने में इस्तेमाल होने वाली जिलेटन छड़ें बरामद हुईं।

नई दिल्ली | भारतीय रिजर्व बैंक डिजिटल मुद्रा पर काम कर रहा है, जो क्रिप्टोकरेंसी से अलग है। रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि हम तकनीकी क्रांति में पीछे नहीं रहना चाहते हैं। ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के फायदों को पूंजीकृत करने की आवश्यकता है। उन्होंने क्रिप्टोकरेंसी को लेकर कुछ चिंताएं जताई हैं।

बॉम्बे चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के 185वें फाउंडेशन दिवस पर बोलते हुए शक्तिकांत दास ने कहा कि भारत सफलता की राह पर आगे बढ़ने की दहलीज पर खड़ा है। पेट्रोल के दाम में लागत बढ़ाने वाले कारक हैं, इस मामले में केन्द्र और राज्यों को मिलकर ईंधन के दाम में करों को कम करने के समन्वित कदम उठाने की जरूरत है।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि विनिर्माण क्षेत्र वृद्धि की गति में सुधार लाने का काम कर रहा है। देश का एमएसएमई क्षेत्र अर्थव्यवस्था की वृद्धि का इंजन बनकर आगे आया है। रकंपनियों को स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में अधिक निवेश करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि क्रिप्टोकरेंसी को लेकर हमारी कुछ चिंतायें हैं। हम एमएफआई क्षेत्र के लिये अपने नियामकीय ढांचे को सुधारने पर काम कर रहे हैं।

नई दिल्ली | केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम करने पर विचार कर रही है। अगर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के सुझावों पर अगर जीएसटी परिषद अमल करती है तो देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें आधी हो जाएगी। दो दिन पहले उन्होंने कहा था कि उनका मंत्रालय जीएसटी परिषद से पेट्रोलियम उत्पादों को अपने दायरे में शामिल करने का लगातार अनुरोध कर रहा है, क्योंकि इससे लोगों को फायदा होगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी कुछ ऐसे ही संकेत दे चुकी हैं।
पेट्रोल की कीमत पहले ही राजस्थान और मध्य प्रदेश में कुछ स्थानों पर 100 रुपये से अधिक हो गयी है। पेट्रोल-डीजल के महंगे होने के सबसे बड़ा कारण टैक्स ही है। केंद्र सरकार उत्पाद शुल्क और राज्य वैट वसूलते हैं। अभी केंद्र व राज्य सरकारें उत्पाद शुल्क व वैट के नाम पर 100 फीसद से ज्यादा टैक्स वसूल रही हैं। इन दोनों की दरें इतनी ज्यादा है कि 35 रुपये का पेट्रोल राज्यों में 90 से 100 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच रहा है। राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 91 रुपये प्रति लीटर के करीब पहुंच गई है और डीजल 81 रुपये प्रति लीटर को पार कर गया। इस पर केंद्र ने क्रमशः 32.98 रुपए लीटर और 31.83 रुपए लीटर का उत्पाद शुल्क लगाया है।

पेट्रोल-डीजल के रेट पर ये होगा असर
जीएसटी की उच्च दर पर भी पेट्रोल-डीजल को रखा जाए तो मौजूदा कीमतें घटकर आधी रह सकती हैं।
यदि जीएसटी परिषद ने कम स्लैब का विकल्प चुना, तो कीमतों में कमी आ सकती है।
भारत में चार प्राथमिक जीएसटी दर हैं - 5 फीसद, 12 फीसद, 18 फीसद और 28 फीसद
अगर पेट्रोल को 5 फीसद जीएसटी वाले स्लैब में रखा जाए तो यह पूरे देश में 37.57 रुपये लीटर हो जाएगा और डीजल का रेट घटकर 38.03 रुपये रह जाएगा।
अगर 12 फीसद स्लैब में ईंधन को रखा गया तो पेट्रोल की कीमत होगी 40 फीसद और डीजल मिलेगा 40.56 रुपये।
अगर 18 फीसद जीएसटी वाले स्लैब में पेट्रोल आया तो कीमत होगी 42.22 रुपये और डीजल होगा 42.73 रुपये।
वहीं अगर 28 फीसद वाले स्लैब में ईंधन को रखा गया तो पेट्रोल 45.79 रुपये रह जाएगा और डीजल होगा 46.36 रुपये।

कहां है दिक्कत
राज्य पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने को तैयार नहीं हैं। 1 जुलाई, 2017 को जीएसटी लागू किया गया था। उस समय राज्यों की उच्च निर्भरता के कारण पेट्रोल और डीजल को इससे बाहर रखा गया था। जीएसटी में पेट्रोलियम उत्पादों को शामिल किया जाता है, तो देश भर में ईंधन की एक समान कीमत होगी। बता दें फरवरी में अब तक पेट्रोल की कीमतें 4.63 रुपये प्रति लीटर और डीजल की दरें 4.84 रुपये प्रति लीटर बढ़ चुकी हैं। इसी तरह 2021 में अब तक पेट्रोल 7.22 रुपये और डीजल 7.45 रुपये महंगा हो चुका है।

मुंबई । पेट्रोल, डीजल एलपीजी गैस, सब्जी, के बाद अब दूध भी महंगा होने जा रहा है। जानकारी के अनुसार एक मार्च से दूध की कीमत 12 रुपए प्रति लीटर तक बढ़ सकती है। दरअसल हाल ही में दुग्ध उत्पादक संघ की एक बैठक हुई थी, जिसमें दूध के उत्पादकों ने दाम बढ़ाने पर जोर दिया। दलील दी गई कि बढ़ती महंगाई की वजह से पशुओं का चारा भी बहुत महंगा हो गया है। यातायात शुल्क में भी बढ़ोतरी हो गई है जिसका असर पशुओं की कीमत पर भी पड़ रहा है। बैठक में कहा गया कि एक अच्छी भैंस खरीदने के लिए 1 से 1.5 लाख रुपयों तक की जरूरत होती है जिसकी वजह से पशुपालन में काफी दिक्कतें आ रही हैं। बैठक के बाद ऐसी संभावना जताई जा रही है कि दूध की कीमत 12 रुपए प्रति लीटर तक बढ़ सकती है। एक दुग्ध उत्पादक ने कहा कि पिछले साल कोरोनावायरस के कारण कीमतें नहीं बढ़ाई गईं. लेकिन अब पशु चारा काफी महंगा पड़ रहा है। दूध उत्पादकों ने साफ कर दिया है कि अगर दूध के दाम नहीं बढ़ाए गए तो दूध की आपूर्ति रोक देंगे।

नई ‎दिल्ली । बाजार नियामक सेबी ने बुधवार को भारतीय प्रतिभूति बाजार में मान्यता प्राप्त निवेशक धारणा के प्रस्ताव पर संबंधित पक्षों से टिप्पणी मांगी। सेबी ने परामर्श पत्र में निर्धारित प्रारूप में 18 मार्च, 2021 तक टिप्पणी देने को कहा है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के अनुसार मान्यता प्राप्त निवेशक या पात्र निवेशक अथवा पेशेवर निवेशक वे हैं, जिन्हें विभिन्न वित्तीय उत्पादों की समझ है और उससे जुड़े जोखिम तथा रिटर्न को समझते हैं। ऐसे निवेशक अपने निवेश के बारे में सोच-समझकर निर्णय करने में सक्षम होते हैं और कई प्रतिभूतियों तथा वित्तीय बाजार नियामक इसे मान्यता देते हैं। मान्यता प्राप्त निवेशक धारणा निवेशकों और वित्तीय उत्पाद या सेवा प्रदाताओं के लिए लाभदायक हो सकती है। मान्यता प्राप्त निवेशकों के लिए रूपरेखा का प्रस्ताव करते हुए सेबी ने भारतीय और प्रवासी भारतीय तथा विदेशी इकाइयों के लिए पात्रता मानदंड निर्धारित किया है। भारतीय व्यक्तियों, हिंदू अविभाजित परिवार और परिवार ट्रस्ट के लिए सेबी ने 2 करोड़ रुपए या उससे अधिक सालाना आय या कम-से-कम 3.75 करोड़ रुपए की वित्तीय संपत्ति के साथ 7.5 करोड़ रुपए अथवा उससे अधिक नेटवर्थ रखा गया है। ऐसी इकाइयां जिनकी सालाना आय एक करोड़ रुपए या उससे अधिक हो तथा कम-से-कम 2.5 करोड़ रुपए की वित्तीय संपत्तियों के साथ नेटवर्थ 5 करोड़ रुपए या उससे अधिक हो, वे भी इसके लिए पात्र होंगी। इसी प्रकार ट्रस्ट और कंपनियों के अलावा प्रवासी भारतीयों तथा विदेशी व्यक्तियों के लिए मानदंड तय किए गए हैं।

Page 1 of 44

फेसबुक